Pharmaceutical Companies Kaise Open Kare | TalkInHindi

Pharmaceutical Companies Kaise Open Kare | TalkInHindi

Pharma Company Hindi Pharmaceutical Companies आज के टाइम में एक बहुत अच्छा बिज़नेस है क्योकि आज के टाइम में मेडिसन में जितना प्रॉफिट है शायद ही किसी और बिज़नेस में होगा इसलिए आज बहुत से लोग Pharmaceutical Companies ओपन करना चाहते है लेकिन सही जानकारी के बिना कोई भी कंपनी खोलना बहुत मुश्किल है क्योंकि यदि कोई भी Pharmaceutical Companies बिना कोई जानकारी के ओपन भी कर लेते है तो वह ज्यादा दिन चलता नहीं है इसलिए कोई भी कंपनी हो ऑनलाइन हो या ऑफलाइन हो पहले अच्छी तरह से उसके बारे पूरी जानकारी ले उसके बाद देखे की वह काम आप अच्छी तरह से कर सकते है या नहीं और बात एक फार्मा कंपनी की करे तो आज का एक पॉपुलर बिज़नेस है फार्मा बिज़नस 2 टाइप के होते एक Pharmaceutical Manufacturing company और दूसरी कंपनी और दूसरी Pharmaceutical Marketing Company दोनों ही बहुत ही अच्छे बिज़नेस है .

आपको दोनों के बारे में बताएँगे की आप कैसे दोनों बिज़नस कर सकते है लेकिन आपको उस से पहले बता दे की आप रिस्क बिलकुल काम लेना चाहते है तो फार्मा फ्रैंचाइज़ी कंपनी भी होती है इसके अंदर बिल्कुल रिस्क नहीं होता है तो यदि आप फार्मा में इंटरेस्ट रखते है और यह कंपनी खोलना चाहते है तो आज हमे इस आर्टिकल में बताएंगे की आप कैसे एक Pharmaceutical Companies ओपन कर सकते है और बताएंगे कि आपको एक Pharmaceutical Companies ओपन करने के लिए क्या क्या चाहिए

Pharmaceutical Company के प्रकार

  1. Pharmaceutical Manufacturing Company
  2. फार्मास्यूटिकल Marketing Company

जैसे हमने बताया की Pharmaceutical Companies 2 टाइप की होती है एक Pharmaceutical Manufacturing Company और दूसरी Pharmaceutical Marketing Company

  1. Pharmaceutical Branded/Ethical Company
  2. Pharmaceutical Generic Company
  3. फार्मास्यूटिकल Franchise Company
  4. Pharmaceutical Pcd Company
  5. फार्मास्यूटिकल Specialty company e.g. Derma, ophthalmic, cardiac etc
  6. Pharmaceutical Export Company
  7. फार्मास्यूटिकल Pharmaceutical Import Company
  8. Pharmaceutical OTC company
  9. Pharmaceutical Distribution Company
  10. And many more

फार्मास्यूटिकल Pharmaceutical Manufacturing Company कैसे ओपन करे

Pharmaceutical Manufacturing Company ओपन करने के लिए सबसे पहले आपके पास Pharmaceutical Manufacturing Company से रिलेटेड सभी लाइसेंस होने चाहिए और एक कंपनी में मेडिसिन को Manufacturing करने के लिए जरुरी मशीन और वर्कर सब कुछ चाहिए और यदि कोई भी मैन्युफैक्चरिंग कंपनी करते है उसके अन्दर पहले अच्छी इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है और अच्छी मेहनत करनी पड़ती है तभी एक कंपनी को चलाया जा सकता है तो देखिये की कौन कौन से लाइसेंस और क्या क्या रिक्वायरमेंट्स होती है. Pharma Company Hindi

आवश्यक लाइसेंस

  • Company Registration (in case proprietorship you may skip this process)
  • मैन्युफैक्चरिंग License
  • Laboratory License
  • Wholesale Drug License
  • Goods and Service Tax Number

Licensing Authority से मैन्युफैक्चरिंग लाइसेंस कैसे  ले सकते है

Licensing Authority एक इंडियन  गवर्नमेंट द्वारा ऑथॉरिज़ेड  डिपार्टमेंट या पर्सन होता हैजो किसी भी कंपनी को लाइसेंस प्रोवाइड करता है और लाइसेंसिंग अथॉरिटी ऑफिस ज्यादातर स्टेट की कैपिटल में पाये जाते हैतो यदि कोई कंपनी स्टार्ट करने के लिए लाइसेंस लेना हैतो लाइसेंसिंग अथॉरिटी ऑफिस में जाना पड़ेगा और वंहा जाकर सारी कंडीशन बतानी पड़ेगी उसके बाद यदि लाइसेंस मिले तो कोई भी कंपनी स्टार्ट कर सकते है

License के लिए अप्लाई कैसे करे

जॉब जरूरी और डॉक्यूमेंट पूरे हो जाते है तो उसके बाद स्टेट ड्रग कंट्रोल ऑफिस में जाकर मैन्युफैक्चरिंग लाइसेंस के लिए फाइल सबमिट कर सकते हैऔर अब तो कुछ स्टेट के अंदर ऑनलाइन एप्लीकेशन सबमिशन स्टार्ट कर दिए है और मैन्युअल फाइल सबमिशन भी चलु किये जा रहे है तो आपके स्टेट में यदि ऑनलाइन सबमिशन होता है वहा से ऑनलाइन सबमिशन कर सकते है Pharma Company Hindi

अन्य  किस किस चीज की जरूरत पड़ती है

  • Plant and Building (As per WHO:GMP and/or Your Country Law like in India, As per Drug and Cosmetic Act)
  • Technical Staff i.e. Approved Manufacturing Chemist and Approved Analytical Chemist
  • Machinery and Lab Equipment
  • Office Accessories
  • Machine Men and Workers
  • Electricity Supply
  • Water Supply
  • HVAC unit
  • List of medicines to be manufactured
  • Non Objection Certificate

Pharmaceutical मार्केटिंग कंपनी कैसे ओपन करे (Pharma Company Hindi)

यदि कोई पर्सन फार्मास्यूटिकल मार्केटिंग कंपनी ओपन करना चाहता है तो उसके लिए सबसे पहले जरूरत होती है होलसेल ड्रग लाइसेंस नंबर की और टैक्स इंडेंटिफिकेशन नंबर और सभी जरूरी डॉक्यूमेंट भी होने चाहिए जैसे;

आवश्यक लाइसेंस :

  • Company Registration (in case proprietorship you can skin this process)
  • Wholesale Drug License
  • Goods and Service Tax Number
  • FSSAI Registration (In case of selling Food and Dietary Supplements also)

लाइसेंसिंग अथॉरिटी के कंडीशन को पूरा करके लाइसेंस ले सकते हैलेकिन जो भी काम आप कर रहे है उसकी पूरी डिटेल सही तरीके से लाइसेंसिंग अथॉरिटी के सामने रखनी होगी उसके बाद ही लाइसेंस मिल सकता है और यह लाइसेंसिंग अथॉरिटी ऑफिस डिस्ट्रिक्ट में होता है. Pharma Company Hindi

अन्य  किस किस चीज की जरूरत पड़ती है

  • Premises (Cemented and well furnished floor and walls, concrete roof etc)
  • Competent Person i.e. Pharmacist or Experience Person
  • Office Accessories
  • Freeze and Air conditioner if asked for
  • Electricity Supply

Company Registration कैसे करवाए (Pharma Company Hindi)

Pharmaceutical companies का रजिस्ट्रेशन कंपनी एक्ट. के अंडर 4 टाइप्स का है जैसे;

  • One Person Company
  • Private Limited Company
  • Limited Liability Company
  • Public Limited Company

सभी कंपनी के लिए अलग अलग Requirements एंड Eligibility होती है और गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया के अंडर डिफरेंट कंपनी के रजिस्ट्रेशन के लिए कुछ क्राइटेरिया फिक्स्ड किया गया है उनके हिसाब से किसी भी कंपनी का रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है और मिनिस्ट्री ऑफ कॉर्पोरेट ऑफिस में रजिस्ट्रेशन करवा सकते है यदि कोई ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना चाहे तो http://www.mca.gov.in वेबसाइट से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है.

Company रजिस्ट्रेशन के लिए डाक्यूमेंट्स (Pharma Company Hindi)

  • DSC (Digital Signature Certificate)
  • DIN (Director Identification Number)
  • PAN (Permanent Account Number) Card
  • TAN (Tax Deduction and Collection Number)
  • Identity Proof (Electronic ID / Aadhar Card / Passport / Driving License)
  • Passport Photo
  • Address Proof (Bank Statement / Mobile Bill / Telephone)
  • Rent Agreement (Notarised: For rented property) or Ownership proof
  • Latest Electricity Bill
  • MOA(Memorandum Of Association) or/andAOA (Article Of Association)
  • NOC if required

Goods and Service Tax Identification नंबर के लिए अप्लाई कैसे करे

GST आज इंडिया के अंदर सभी टाइप के बिज़नेस पे लग रहा है लेकिन जिस बिज़नेस के अंदर सालाना टर्नओवर 20 लाख से कम है उसके अन्दर GSTIN रजिस्ट्रेशन जरूरी नहीं है जिन बिज़नेस में सालाना टर्नओवर 20 लाख से ज्यादा है उनके अंदर GST रजिस्ट्रेशन 30 डेज के अंदर जरुरी है. और किसी भी बिज़नेस के लिए GST रजिस्ट्रेशन ऑफिस में जाये और वंहा पूरे डॉक्यूमेंट के साथ जाये जिस से यदि कोई भी डिटेल मांगे तो उसमे आपको कोई भी प्रॉब्लम न रहे.

GSTINApplying के लिए जरुरी डाक्यूमेंट्स (Pharma Company Document Hindi)

  • Digital Signature Certificate (Class II)
  • Address Proof of Business Entity
  • Proprietor/Partners/Directors Address Proof
  • Aadhaar Card, PAN and Image etc
  • Ownership Proof or Rent agreement
  • Partnership deed or memorandum of association/certificate of incorporation
  • Back Statement and Bank Detail

Pharmaceutical Company Starting की  Process (Pharma Company Hindi)

  1. सबसे पहले बिज़नेस प्लान तैयार करें.
  2. उसके बाद कोई अच्छा सा और आसान सा कोई कंपनी नाम Choose करे.
  3.  Molecules and Brand नाम Choose करें।
  4. कंपनी Logo और प्रिंटिंग /प्रमोशनल मटेरियल डिजाइनिंग करे
  5. Choose place, premises and building for starting Pharma company
  6. Fund generation (own, loan, investment etc)
  7. Company Registration (If required)
  8. Trade Mark Registration(Optional)
  9. Manufacturing License (For Manufacturing Company)
  10. Wholesale Drug License (For both Marketing and Manufacturing Company)
  11. Goods and Service Tax Identification Number (GSTIN)
  12. FSSAI Registration and/or License (If required)
  13.  कोई अच्छा सा वेंडर्स देखे (For marketing Companies, Third Party/Contract Manufacturers or Loan license manufacturers. For Manufacturing Companies, Packing material suppliers, raw material & bulk drug suppliers and other requirements fulfillers)
  14. Medicines boxes, label, foils etc मटेरियल डिज़ाइन करे
  15. Start manufacturing in case of manufacturing company
  16. Place order to manufacturer at basis of third party manufacturing/ contract manufacturing/ Loan Licencing in case of marketing company
  17. प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग  और प्रमोशन स्टार्ट करे.

तो आप इस तरह से कोई भी Pharmaceutical Companies in hindi ओपन कर सकते है और इन से अलग फार्मा फ्रेंचाइजी कंपनी भी ओपन कर सकते है इसके बारे में हम अलग आर्टिकल में बताएंगे लेकिन यदि कोई भी Pharmaceutical Manufacturing Company या Pharmaceutical marketing company open karni hai toh hmne artical achii trah se btaya hai .

Facebook Comments Box